Pradhanmantri banne ke liye 11th class mein kaun si stream Lene chahiye aur kaun kaun se Ashish karne chahie. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. विधानसभा सदस्यों की संख्या 294 है. भारत के संविधान में औपचारिक रूप से संघ की कार्यपालिका की शक्तियाँ राष्ट्रपति को दी गयी है. IAS की परीक्षा हिंदी माध्यम से दूँ या इंग्लिश माध्यम से? राज्य की विधानसभा के प्रत्येक सदस्य के मत का मूल्य निकालने के लिए उस राज्य की कुल जनसंख्या में राज्य विधानसभा के कुल निर्वाचित सदस्यों की संख्या से भाग दिया जाता है. युद्ध, बाह्य आक्रमण या सशस्त्र विद्रोह से यदि भारत या उसके किसी भाग की सुरक्षा संकट में हो. संविधान संशोधन विधेयक के लिए भी इस प्रकार का प्रावधान है. पुरापाषाण, मध्यपाषाण और नवपाषाण काल के विषय में स्मरणीय तथ्य, Hindi Explanation of Tenses in English Grammar, ऋण वसूली न्यायाधिकरण – DRT क्या है? चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।, प्रिय विद्यार्थियों जैसे कि आपने कष्ट किया है कि भारत का प्रधानमंत्री बनने के लिए न्यूनतम आयु कितनी होती है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रधानमंत्री बनने के लिए सबसे पहले तो उसे संसद के किसी भी सदन अर्थात लोकसभा या राज्यसभा का सदस्य होना अनिवार्य है लोकसभा के लिए न्यूनतम आयु 25 वर्ष है और वही राज्यसभा के लिए न्यूनतम आयु 30 वर्ष है धन्यवाद, प्रिय विद्यार्थियों जैसे कि आपने कष्ट किया है कि भारत का प्रधानमंत्री बनने के लिए न्यूनतम. यह निर्वाचन समानुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली और एकल संक्रमणीय मत के सिद्धांत के अनुसार होता है. Parkhi on 02-04-2019. Anonymous. Enjoy the videos and music you love, upload original content, and share it all with friends, family, and the world on YouTube. V,p,Suttwol p. Jamalpur. snvidhan ke anuchchhed 80 ke anusar rajh‍yasabha men 250 sadash‍y hote hain jiname 12 sadash‍y rashh‍trapati dvara namit aur baki 238 log chauthi anusoochi men janasnkhya ke adhar par rajyon se chune jate hain. isaki adhyakshata tatkalin uparashtrapati daau. किसी राज्य पर शासन संविधान के अनुरूप न चलने पर या संविधानिक तंत्र असफल हो जाने पर. Punjab. ve 12 sadasy jinhen rashtrapati dvara rajyasabha ke lie namit kiya jata hai, unhen sahity, vigyan, kala tatha samaj seva ke kshetr men vishesh gyan ya vyavaharik anubhav hona chahie. Neeti nideshak tatva or mooladhikaron mein kya sambandh hai pls mjhe is ke bre main batayein…. Vineet. rajyon ke pratinidhiyon ka chunav rajyon ki vidhanasabha ke sadasyon dvara anupatik pratinidhitv paddhati ke anusar ekal snkramaniy mat dvara kiya jata hai tatha sngharajy kshetron ke pratinidhiyon ka chunav us dhng se kiya jata hai, jise snsad vidhi banakar vihit kare. महाभियोग केवल संविधान के उल्लंघन के आधार पर लगाया जा सकता है. भारत के मुख्य न्यायाधीश मो. कुछ विषयों से सम्बंधित विधेयक संसद में प्रस्तुत करने से पूर्व राष्ट्रपति की अनुमति आवश्यक होती है, जैसे – राज्यों की सीमा परिवर्तन, धन विधेयक, अनुच्छेद 31 क (1) में वर्णित विषय आदि से सम्बंधित विधेयक. ऐसी स्थिति में एक ऐसे राष्ट्र प्रमुख की जरुरत पड़ती है जिसका कार्यकाल स्थायी हो, जिसके पास प्रधानमंत्री को नियुक्त करने की शक्ति हो और जो सांकेतिक रूप से पूरे देश का प्रतिनिधित्व कर सके. isake sadasyon men se ek tihaee sadasy pratyek doosare varsh padamukt ho jate hain tatha padamukt hone vale sadasyon ke sthanon ko bharane ke lie pratyek doosare varsh chunav hota hai. sabhapati rajyasabha ke naye sadasyon ko pad ki shapath dilata hai. http://en.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=राज्य_सभा&oldid=643975. वह तीनों सेनाओं के सेना अध्यक्षों की नियुक्ति करता है. निर्वाचन के लिए प्रत्येक योग्य मतदाताओं के मत का मूल्य निकाला जाता है जो समान नहीं होता. इसके अतिरिक्त यह भी सोचा जा सकता है कि यदि गठबंधन बनाने के प्रयासों के बाद भी दो या तीन नेता यह दावा करें की उन्हें लोकसभा में बहुतमत प्राप्त है, तो क्या होगा? yadi koee sadasy tyagapatr de deta hai ya usaki akasmik mrityu ke karan koee sthan rikt hota hai, to is rikt sthan ke lie upachunav hota hai. rajyasabha men keval do sngh rajyakshetron- yatha rashtriy rajadhani rajy kshetr dilli tatha pandicheri, ke lie sthanon ko avntit kiya gaya hai. isilie chunav hone ki sthiti men vidhayakon dvara any variyata ke maton ka mahatv bahut badh jata hai. पर वास्तव में प्रधानमंत्री के नेतृत्व में बनी मंत्रिपरिषद् के माध्यम से राष्ट्रपति इन शक्तियों का प्रयोग करता है. Nice pls tell me thi show many seats in loksbha fron Hryana. in rajy kshetron ke avntan men rajyasabha ke sthanon ko bharane ke lie nirvachakaganon ko gathit karane ke sambandh men lok pratinidhitv adhiniyam, 1950 ki dhara '27-k' men snsad dvara us dhng ko vihit kiya gaya hai, jisake anusar pandicheri sngh rajyakshetr ke lie avntit sthan ko is sngh rajy kshetr ke vidhan sabha ke sadasyon dvara chune gaye vyakti se bhara jaega tatha dilli ke sambandh men is dhara men kaha gaya tha ki, "dilli sngh rajyakshetr ke rajyasabha sadasy ka chunav mahanagar ke parishad ke nirvachit sadasyon dvara kiya jaega, lekin dilli men vidhanasabha ke gathan ke bad sthiti men parivartan ho gaya hai". Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. 44वें संविधान संशोधन द्वारा राष्ट्रपति को मंत्रिपरिषद् की सलाहों को केवल एक बार पुनर्विचार के लिए प्रेषित करने का अधिकार दिया गया है, यदि परिषद् अपने विचार पर टिकी रहती है तो राष्ट्रपति उसी सलाह को मानने के लिए बाध्य होगा.